• City News Raipur

  • Breaking news

रायपुर। दुर्ग, राजनांदगांव के बाद अब राजधानी रायपुर और बीरगांव नगर निगम में भी जिला प्रशासन ने कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए लॉकडाउन की घोषणा कर दी है. कलेक्टर एस भारतीदासन की ओर से जारी आदेश 4 अप्रैल से ही प्रभावी हो जायेगा.

बता दें कि न केवल राजधानी रायपुर में बल्कि पूरे प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर चल रही है. यह पहली लहर की तुलना में कहीं ज्यादा चिंता पैदा कर रही है. इसमें न केवल संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है, बल्कि मरने वालों की संख्या में भी बढ़ोतरी देखऩे को मिल रही है. यही वजह है कि दुर्ग, बेमेतरा के बाद राजनांदगांव में भी लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है.

Exclusive news : रायपुर में 12 घंटे का लाॉकडाउन जैसा आदेश लागू : हाइलेबल मीटिंग के बाद रायपुर कलेक्टर डा. भारतीदासन ने किया आदेश जारी : पढें पूरी खबर…!! ….!!

राजधानी में लॉकडाउन को लेकर कश्मकश बना हुआ था, जिसे आज कलेक्टर ने आदेश जारी कर दूर कर दिया है. कोरोना संक्रमितों के मामले में भी रायपुर प्रदेश की राजधानी बना हुआ है. प्रदेश में शुक्रवार को रायपुर में 1405, दुर्ग में 964, राजनांदगांव में 241, बिलासपुर में 244, सरगुजा में 145, महासमुंद में 188, कोरबा में 112, रायगढ़ में 103, धमतरी में 108 कोरोना मरीज सामने आए है. इस तरह से करीबन डेढ़ हजार मरीजों के साथ रायपुर छत्तीसगढ़ की पूरे देश में भयावह तस्वीर पेश कर रहा है.

बात करें प्रदेश कि तो छत्तीसगढ़ में अब रोजाना कोरोना के हजारों संक्रमित सामने आ रहे हैं. प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 4 हजार 174 नए कोरोना मरीज मिले हैं. कोरोना से 33 लोगों ने जान भी गंवाई है. वहीं बीते रात और 10 लोगों की मौत हुई है. इस तरह कुल 43 लोगों ने कोरोना के चलते दम तोड़ा है. राहत की बात यह है कि इस बीमारी से 945 मरीज़ स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए गए है.