रायपुर . राजधानी में एक ठग जोड़ा सक्रिय है। प्रेमी जमीन खरीदार बनकर और प्रेमिका खुद को वकील बताकर ऑनलाइन ठगी करती थी। दोनों ने अब तक आधा दर्जन से अधिक लोगों को निशाना बनाया है। पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया है। दोनों पांच-दस हजार रुपए की ठगी करते थे। इसके बाद फोन उठाना बंद कर देते थे।

पुलिस के मुताबिक दोनों ने पुराना राजेंद्र नगर स्थित मेडिकल स्टोर संचालक दीपक जिंदवानी से ठगी की। दीपक ने कुछ दिन पहले अपनी जमीन बेचने का विज्ञापन दिया था।

विज्ञापन के आधार पर प्रद्दुम्न शर्मा ने उन्हें फोन किया और जमीन को खरीदने की इच्छा जताई। इसके बाद उसने दीपक से बी-१ की कॉपी मांगी। दीपक ने बी-१ नहीं निकलवाया था। उन्होंने कहा कि बी-१ निकलवा दूंगा। इस पर प्रद्दुम्न ने कहा कि हमारी वकील सिमरन लालवानी है। उनसे बात कर लेना।

वह बी-१ निकलवा देगी। इसके कुछ देर बाद सिमरन ने दीपक को फोन किया। और बी-१ के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इसके लिए ५ हजार रुपए लगेंगे। दीपक को पहले से ही बी-१ नक्शे की जरूरत थी।

इसलिए उन्होंने सहमति दे दी।इसके बाद सिमरन ने अपना बेंक एकाउंट नंबर दिया और उसमें ५ हजार जमा करने के लिए कहा।

दीपक ने अपने भीम पे के जरिए उनके खाते में ५ हजार रुपए जमा कर दिए। इसके बाद युवक-युवती ने अपना मोबाइल नंबर बंद कर दिया। इसकी शिकायत दीपक ने सिविल लाइन थाने में की। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

आधा दर्जन से अधिक फंसे
आरोपी युवक-युवती ने आधा दर्जन से अधिक लोगों को इसी तरह से ठगा है। किसी से ५ हजार, तो किसी से १० हजार रुपए की ठगी की है। दोनों विज्ञापन दिए नंबरों में कॉल करते थे और उनसे बातचीत करते थे। युवती राजनांदगांव की रहने वाली है। फिलहाल पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया है। और उनसे पूछताछ की जा रही है।