सिटी न्यूज रायपुर

छत्तीसगढ / रायपुर – मंत्रालय में पदस्थ एक अधिकारी ने नाम नही छापने की शर्त पर बताया कि प्रदेश की गरीब और आमजनता के साथ साथ छत्तीसगढ सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भी इस कांग्रेस सरकार के गलत रीति नीति से परेशान है, आर्थिक हालात लगातार खस्ता हो रही है, एक ओर जहां सरकार लगातार उटपटांग आदेश कर उनकी पूर्ति के लिये बैंकों से बार बार भारी भरकम कर्ज ले रही है,, जिसके बोझ से छत्तीसगढ के गरीब और आमजनता दबते ही जा रहा है, कांग्रेसियो को खुश करने नियमविरूद्ध मौखिक आदेश के पालनार्थ सरकारी कर्मचारियों को वेतन देने के लिये भी अब सरकार के पास पैसे नही रहते,, पैसे की कमी की पुष्टि कांग्रेस सरकार में कद्दावर मंत्री और वरिष्ठ नेता टी.एस. सिंहदेव ने तो खुद कई मौके पर बार बार इस बात को मीडिया के समक्ष बेबाकी से स्पष्ट किया है कि सरकार के पास बिलकुल पैसा नही है यही कारण है कि हम अपना वादा नही निभा पा रहे है, चारो तरफ विकास ठप्प है, महिला समुह, आंगनबाडी, शिक्षक, पुलिस, संविदा कर्मचारियों, प्लेसमेंट कर्मचारियों आदि को नियमितीकरन हेतु किये गये चुनावी वादों को सरकार पुरा नही कर पा रही है,, चुनावी घोषणा पत्र के वायदो को पुरा करने की बात तो दूर, सरकार की नाकामी से अनेकों एैसे काम जो नियमित रूप से चल रहे थे अब वो भी बंद किया जा रहा है उसी में से एक पोर्टल न्यूज के रजिस्ट्रेशन पर भी मौखिक रोक लगा रखे हैं,, संपूर्ण योग्यता के बावजूद ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनो रजिस्ट्रेशन पर मौखिक रोक है केवल उन्ही पोर्टल न्यूज का रजिस्ट्रेशन हो रहा है जो सरकार में बैठे लोगों के तारीफ में झूठी पुलिंदा गढ सके,, सरकार के बदसूरत चेहरे को चमका सके,, इस सरकार ने तो लोकतंत्र के चौथे स्तंभ मीडिया के साथ भी भ्रष्ट तरीके अपनाकर जबरदस्त भेदभाव  कर रही है , मीडिया में भी कुछ एैसे चापलूस लोग है जिन्हे गरीब और आम जनता की मूलभुत सुविधा, उनके तकलीफ , परेशानी, अन्याय, अत्याचार, अवैध कार्य- शराब, गांजा, सटटा, गुंडागर्दी  और सच्चाई से कोई मतलब नही रहता केवल सरकार के तारीफ में दिन भर झूठ परोसते रहते है ,  बदले में सरकार भी उन लोगों पर बेहिसाब खजाना लुटा रही है, वतन के कुछ गददारों ने मीडिया को व्यापार बनाकर रख दिया गया है, शहर के भीतर अरबो रूपये की जमीन को इन्हें मुफ्त में बांट रही है,, वहीं दूसरी ओर सैकडों एैसे मीडिया के  पत्रकार साथी है जिन्हें सच्चाई लिखने और सरकार को आइना दिखाने पर अपने कुरूप चेहरा देखकर सरकार  भडक जाती है फिर सरकार के गुंडे एैसे पत्रकारों और मीडिया पर खुलेआम जुल्म ढाकर , अपने कुरूप चेहरे पर गुंडागर्दी का पावडर क्रीम लगाकर चमकाने का झूठी प्रयास करते है  !!Big news : पोर्टल न्यूज को ठगा भूपेश सरकार ने : छत्तीसगढ के पोर्टल न्यूजों का रजिस्ट्रेशन नियमविरूद्ध रोका...!!

जनसंपर्क विभाग के अधिकारी ने बताया कि सरकार में बैठे लोग पोर्टल न्यूज के रजिस्ट्रेशन के लिये बनाया एक साल पुराना वाला नियम का पालन भी नही करा रहे है चेहरा देखकर रजिस्ट्रेशन हो रहा है, भ्रष्टाचार और भेदभाव का बोलबाला है, यही हाल रहा तो छत्तीसगढ प्रदेश में लोकतंत्र , जनतंत्र , प्रजातंत्र नही केवल भ्रष्टंतंत्र ही रह जायेगा  !!