शेयर करें -

Whatsapp button

कलेक्टर ने टोटल लॉकडाउन लगाने का जारी किया आदेश। आदेश में कलेक्टर ने बताया है की 12 सितम्बर तक लॉकडाउन रहेगा। मेडिकल , दूध डेयरी , पेट्रोल पंप , मीडिया और बैंक संस्थानों को लॉकडाउन में छूट दी जाएगी।  

कलेक्टर ने आदेश में और लिखा है कि …

कोरोना के लगातार बढ़ते पॉजिटिव मामलों को दृष्टिगत रखते हुए जनप्रतिनिधियों , सामजिक / व्यापारिक संगठनों द्वारा लगातार की जा रही मांग पर सम्पूर्ण नगर पालिक निगम , राजनांदगांव क्षेत्र राजनांदगांव को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाता है। 

CORONA BREAKING : प्रदेेश में आज 2000 के करीब : राजधानी रायपुर सहित बाकी शहरों की रिपोर्ट देखिए…

साथ ही दिनाक 04.09.2020 शुक्रवार शाम 07.00 बजे से दिनाक 12.09.2020 , प्रात : 07 00 बजे तक सभी व्यवसायिक संस्थान बंद क्रमाक / RAD / सा.लि. / 2020 वर्तमान में जिले में विशेषतः नगर पालिक निगम , राजनांदगांव सीमाक्षेत्र में कोरोना रखे जाने हेतु आदेशित किया जाता है ।

1. उपरोक्त प्रतिबंध से केवल अस्पताल , मेडिकल शॉप शासकीय / अशासकीय कार्यालय , बैंक , मिडिया ( न्यूज पेपर वितरण ) , पेट्रोल पंप व गैस एजेन्सियों को मुक्त रखा जाता है ।

2. दूध डेयरी वाले प्रातः 06.00 बजे से प्रातः 10.00 बजे तक डेयरी खोल सकेंगे किन्तु डेयरी में दूध के अलावा अन्य सामग्री विक्रय की अनुमति नहीं होगी तथा शाम 05.00 बजे से रात्रि 08.00 बजे तक केवल होम डिलिवरी कर सकेंगे ।

3. खाद्य प्रसंस्करण से संबंधित उद्योग ( यथा राईस मिल , दाल मिल , पोहा मिल आदि ) यथावत् संचालित रहेंगे ।

4. सभी नागरिक अपने घर में ही रहेंगे बुनियादी आवश्यकताओं की पूर्ति के कम में बाहर जाने पर सामाजिक दूरी के दिशा – निर्देशों का अनुपालन करेंगे घर से बाहर जाने की स्थिति में प्रत्येक व्यक्ति को अनिवार्यतः अपना वैध पहचान पत्र साथ में रखना होगा ।

5. नगर पालिक निगम राजनांदगांव क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले फैक्ट्री , निर्माण एवं श्रम कार्य संचालित करने वाली इकाईयों को निम्न शर्तों के अधीन छूट रहेगी 

कोरोना संक्रमण ज्यादा खतरनाक छोटे बच्चों ( शिशु ) के लिए ; इस तरीके से बनाइये ड्राई फ्रूट पाउडर ; बच्चे को बनाइये अंदर से मजबूत

• क . यथासंभव श्रमिकों के रहने की व्यवस्था फैक्ट्री / इकाइयों के अदर करनी होगी ।

• ख . आवश्यकता पड़ने पर कर्मचारियों के परिवहन की व्यवस्था फैक्ट्री / ईकाईयों को स्वयं करनी होगी ।

• ग . संक्रमण विस्तार को दृष्टिगत रखते हुए भारत सरकार , राज्य शासन तथा समय – समय पर अन्य संस्थानों द्वारा महामारी से सुरक्षा हेतु जारी समस्त निर्देशों का अक्षरशः पालन सुनिश्चित करना होगा ।

• घ . इन इकाईयों से धनात्मक मरीजों की पहचान होने पर इलाज पर होने वाले व्यय का वहन इन इकाईयों को ही करना होगा । तहत दण्डात्मक कार्यवाही की जावेगी ।

 विज्ञापन के लिए संपर्क करें – 8889075555 

शेयर करें -