पेंड्रा: मरवाही उपचुनाव में जेसीसीजे को एक के बाद एक जोर का झटका लग रहा है। अमित जोगी, पत्नी ऋचा जोगी के बाद अब जेसीसीजे की एक और उम्मीदवार पुष्पेश्वरी तंवर का भी नामांकन निरस्त कर दिया गया है।

बताया जा रहा है कि पुष्पेश्वरी तंवर ने अपने नामांकन के साथ जेसीसीजे का बीफार्म जमा नहीं किया था, जिसके चलते उनका नामांकन निरस्त कर दिया गया। बता दें कि आज ही ऋचा जोगी का भी नामांकन रद्द कर दिया गया है।

नामांकन विधि सम्मत नहीं होने के कारण निरस्त किया गया है। इससे पहले ऋचा जोगी की जाति प्रमाण पत्र को सस्पेंड किया गया था।गौरतलब है कि राज्य छानबीन समिति ने अमित जोगी का भी नामांकन रद्द किया है। समिति ने अजीत जोगी की जाति के आधार पर अमित जोगी का जाति प्रमाण पत्र और नामांकन रद्द किया है।

समिति ने तर्क दिया है कि 23 अगस्त 2019 को हाई पावर कमेटी ने अजीत जोगी को कंवर नहीं माना था। बेटे की जाति पिता की जाति से निर्धारित होती है। ऐसे में अमित जोगी को कंवर नहीं माना जा सकता।अमित जोगी ने इस फैसले को गलत बताते हुए कहा है कि पूरी कार्रवाई अंधेरे में रखकर की गई है।

18:29:26मीडिया को भी अंधेरे में रखा गया। अमित के मुताबिक राज्य स्तरीय छानबीन समिति के फैसले की कॉपी दोपहर 2:30 बजे ​प्राप्त हुई। जो मेरे सागौन बंगला रायपुर के पते पर मिली