आकाशीय बिजली गिरने से दो बच्च्यिों समेत छह की मौत, 6 महिलाएं झुलसी

403

महासमुंद, छत्‍तीसगढ़ के महासमुंद से एक बड़ी खबर आ रही है। जिले के सराईपाली ब्लाक के सिंघोड़ा थाना क्षेत्र में खेत में काम कर रहे 11 मजदूरों पर आकाशीय बिजली गिर गई। घटना में पांच महिलाओं की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। बेहोशी की हालत में सभी को अस्पताल पहुंचाया गया। जहां पांच महिलाओं को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। ग्राम घाटकछार की यह घटना है। शुक्रवार दोपहर दो बजे यह घटना हुई। खेत में रोपा लगा रहे थे 11 श्रमिक आकाशीय बिजली गिरने से मुर्छित हुए थे। छह श्रमिकों का उपचार जारी है। गांव में शोक का माहौल है।

बताया गया कि खेत मे रोपाई कर रहे सभी लोगों पर बिजली गिरी। दुर्घटना में जानकी, लक्ष्मी यादव, बसंती नाग, जमोवती और नोहरमति की मौत हो गई है। वहीं पंकजनीं, पार्वती मालिक, तपस्वनी, पुन्नी, गीतांजलि और शशि मांझी घायल हुए हैं। सभी घायलों का उपचार सराईपाली अस्पताल में भर्ती जारी है।

मुख्यमंत्री ने गहरा दुख व्यक्त किया, 4-4 लाख की सहायता स्वीकृत करने के निर्देश 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महासमुंद जिले में आकाशीय बिजली गिरने की घटना में 05 श्रमिकों की मृत्यु पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने घटना में घायल 06 श्रमिकों को बेहतर इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कलेक्टर को निर्देश दिए हैं। बघेल ने हादसे में मृत प्रत्येक श्रमिक के परिजनों को आर.बी.सी. 6-4 के प्रावधानों के अनुरूप 04-04 लाख रुपए की सहायता राशि स्वीकृत करने के भी निर्देश दिए हैं।

गौरतलब है कि महासमुंद जिले के थाना सिंघोड़ा के अंतर्गत ग्राम घाटकछार में आकाशीय बिजली गिरने से कुमारी जानकी, कुमारी लक्ष्मी यादव, श्रीमती बसंती नाग, श्रीमती जमोवती, श्रीमती नोहरमति की मृत्यु हो गई। इस घटना में श्रीमती पंकजनी यादव, श्रीमती पार्वती मालिक, श्रीमती तपस्वनी, श्रीमती पुन्नी, श्रीमती गीतांजलि, श्रीमती शशि मुझी घायल हो गए हैं, जिनका सरायपाली स्वास्थ्य केंद्र में उपचार चल रहा है।