10 लाख का अवैध गांजा पकडाया, आरोपी गिरफ्तार – पुलिस अधीक्षक की प्रदेश भर में हो रही खूब तारीफ – पब्लिक बोली एस.पी. हो तो एैसा…

सिटी न्यूज रायपुर…

महासमुंद के पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर की पुरे प्रदेश भर में हो रही खूब तारीफ…

तीन आरोपी आयशर ट्रक के साथ गिरफ्तार।

गौरतलब है कि लंबे समय से पुलिस पर यह आरोप लग रहा है कि आखिर दुसरे प्रदेश से गांजा लाकर छत्तीसगढ़ के कोने कोने में पहुंचाने वाले गिरोह का पर्दाफ़ाश किन कारणों से नहीं होता,  अवैध गांजा के कारोबारियों को किसका संरक्षण प्राप्त है,, राजधानी रायपुर सहित उरला – बीरगांव एवं छत्तीसगढ़ को अपने गिरफ्त में ले चुके गांजा कारोबारी बिना सत्ता पक्ष के संरक्षण के नशे के कारोबार का  इतना बड़ा जाल  नही फैला  सकता !!

कुछ दिनों पहले छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भुपेश बघेल भी छत्तीसगढ के युवा पीढी को गांजा जैसे नशे से बचाने पुलिस विभाग को चेेतावनी दे चुके हैं, बावजूद तस्करी जारी है . लेकिन तब से पुलिस की बड़ी कार्यवाही अब लगातार देखने मिल रहा है  !!

हालांकि इस बडी कामयाबी के लिए पुरे प्रदेश में महासमुंद के पुलिस अधीक्षक श्री प्रफुल्ल ठाकुर की खूब वाहवाही हो रही है  !!

महासमुंद के  पुलिस अधीक्षक श्री प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने जिलें के सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित किया था कि ओड़िसा के रास्ते महासमुंद जिलें से होकर जाने वाले अवैध गांजा के परिवहन पर कडी कार्यवाही करें।

ओड़िसा में जहाँ से अवैध गांजा लाया जाता है। उन क्षेत्रों में अपने मुखबिरों को सक्रिय करें और अवैध गांजा के परिवहन की सूचना प्राप्त कर उस पर लगातार कार्यवाही करें।

Breaking -   BREAKING NEWS : रायपुर जिले के तिल्दा में मिले 8 नए कोरोना मरीज, एक डॉक्टर भी हुआ कोरोना संक्रमित

पुलिस अधीक्षक को सूचना मिली कि ओड़िशा से NH 53 सिंघोडा के रास्ते एक गांजे की बड़ी खेप निकलने वाली है उक्त सूचना पर अनु0अधिकारी (पुलिस) सराईपाली श्री विकास पाटले एवं थाना प्रभारीसिंघोडा उनि0 चंद्रकांत साहू को नाकेबंदी कर दिनांक 23.06.2020 को रात्रि 11.30 बजे एंव फिक्स पाइंट लगाकर कार्यवाही करने के लिए एस.पी. ठाकुर ने  निर्देशित किया।

सिंघोडा थाना के NH 53 रोड में  रियाज ढाबा के सामने गनियारिपाली पर नाकेबंदी कर वाहनों की चेकिंग कर रही थी कि एक आयशर 1110 क्र0MP13GB 0342 संबलपुर ओडिसा की ओर से आ रही थी। जिसमें तीन व्यक्ति सवार थे पूछताछ करने पर उन्होने स्वयं को ओडिसा एवम मध्यप्रदेश का होना बताया और ओड़िसा से मध्यप्रदेश की ओर जाना बताया।

उन्हें जब ओड़िसा मे कब आना किस कार्य से आना और वापस मध्यप्रदेश जाने के संबंध में जब पूछताछ किया गया तो वो पुलिस को लगातार गोलमोल जवाब देकर गुमराह करते रहें। पुलिस को इस बात पर शंका हुई और पुलिस की टीम ने जब उक्त वाहन की बारीकी से तलाशी ली तो उक्त वाहन के अंदर पशु आहर के 50 पैकेट के नीचे 07 बोरियों में 105 पैकेट जिसमें प्लास्टिक के भुरे रंग के टेप से लिपटे हुये दिखें उन पैकेट को देखने पर उनमें मादक पदार्थ गांजा होने की शंका हुई !

Breaking -   कन्वेयर बेल्ट में फंसकर 21 वर्षीय युवक की मौत; धरसींवा फैक्ट्री प्रबंधक द्वारा मामला दबाने की कोशिश; ग्रामीणों में आक्रोश ;मौके पर पहुंची पुलिस

पुलिस ने वाहन में सवार व्यक्ति 1 राजेन्द्र कुमार शर्मा पिता जगदीश शर्मा उम्र 40 वर्स निवासी रामकृष्ण नगर सेकंड लाइन बहरमपुर थाना सदर जिला गंजाम ओडिशा 2 विकास मिना पिता सरदार सिंह मिना उम्र 24 साल निवासी मकसी नई आबादी गली नम्बर 1 थाना शाजापुर जिला शाजापुर मध्यप्रदेश 3 प्रमोद शर्मा पिता रघुनंदन जी शर्मा उम्र 42 साल निवासी दुर्गा कालोनी अंकपात मार्ग गली नम्बर 1 थाना चिमनगंज जिला उज्जैन मध्यप्रदेश से कड़ाई से पूछताछ करने पर 7 बोरी के अंदर कुल 105 पैकेट में कुल210 किलो ग्राम गांजा होना बताए जिसे जप्त कर तीनो के खिलाफ 20बी एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत कार्यवाही कर विवेचना कर रही है।

पुलिस की टीम यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इन व्यक्तिओं ने अवैध मादक पदार्थ गांजा कहा से प्राप्त किया है। इनके साथ और कितने लोग है जो इस धंधे में सक्रिय है और  वे आगे कहां अवैध गांजे का परिवहन करने वाले थे ।

यह सम्पूर्ण कार्यवाही पुलिस अधीक्षक श्री प्रफुल्ल कुमार ठाकुर के मार्गदर्शन में अति0 पुलिस अधीक्षक श्रीमती मेघा टेम्भुरकर साहू एवं अनु0अधिकारी (पु) श्री विकास पाटले के निर्देशन में थाना प्रभारी चंद्रकांत साहू आर.सरोज बारीक ,शोभा वर्मा ,चितरंजन प्रधान,सुशांत बेहरा , रमाकांत त्रिपाठी, छत्तर दास पाटिल ,संजय यादव ,छगन कन्नौजे ,प्रशांत सागर द्वारा की गई है।

Share on :