सिटी न्यूज CN

रायपुर  – बीरगांव

बीरगांव नगर निगम क्षेत्र के सरोरा में बीरगांव नगर निगम के आयुक्त श्रीकांत वर्मा के द्वारा सरोरा के एक निजी स्कूल को क्वारेंटाइन सेंटर बनाकर लगभग सौ से डेढ सौ लोगों को स्कूल में क्वारेंटाइन किया गया है !

गौरतलब है कि सरोरा के निजी स्कूल में रखे गए क्वॉरेंटाइन सेंटर में सभी लोग उस गणपति इस्पात फैक्ट्री के कर्मचारी हैं जहां कुछ दिन पहले कोरोना से छत्तीसगढ़ की पहली मौत उरला में हुई थी ग्राम वासियों को यही डर सता रहा है कि क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखे गए लोगों के कारण हमारे ग्राम सरोरा में किसी को संक्रमण का खतरा ना बढ़ जाए !

इसी मामले को लेकर के आज पूरा गांव बिरगांव नगर निगम के आयुक्त श्रीकांत वर्मा के विरुद्ध उमड़ पड़ा, इसी बीच कुछ लोग भीड़ में से पूर्व पार्षद श्रीमती धरमीन साहू और निजी स्कूल के संचालक श्री पूनाराम साहू  के खिलाफ भी नारेबाजी करने लगे और सरोरा के निजी स्कूल में बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर को अन्यत्र हटाए जाने की मांग को लेकर के भारी विरोध प्रदर्शन किया गया ,

इस मामले को लेकर पूर्व पार्षद श्रीमती धरमीन साहू एवं निजी स्कूल सरोरा के संचालक श्री पुनाराम साहू द्वारा भाजपा के पार्षद श्री धनेश जोगी,  श्री लेखराम साहू पार्षद एवं अन्य के खिलाफ सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ उनके निवास का घेराव और गाालीगलौच  की शिकायत उरला थाना में दर्ज कराया गया है !

 

निजी स्कूल के संचालक श्री पुनाराम साहू का कहना है कि बीरगांव नगर निगम के आयुक्त श्रीकांत वर्मा के कहने पर मुझे यह स्कूल क्वॉरेंटाइन सेंटर के लिए उपलब्ध कराना पड़ा !!