सिटी न्यूज CN

रायपुर  – बीरगांव

छत्तीसगढ़ – रायपुर से लगा हुआ उरला औद्योगिक क्षेत्र है जोकि बीरगांव नगर निगम के अंतर्गत आता है  !

आपको हम बता दें कि कोरोना से छत्तीसगढ़ में जो पहली मौत हुई थी वह मजदूर इसी औधोगिक क्षेत्र उरला के गणपति इस्पात नामक फैक्टरी मे काम करता था  !

गौरतलब है कि उसी गणपति इस्पात नामक फैक्टरी के बाकी कर्मचारियों को जिनकी संख्या लगभग 100 होगी उन सभी को सरोरा के बस्ती में स्थित एक निजी स्कूल को क्वारेंटाइन सेंटर बनाकर स्कूल में क्वारेंटाइन कर दिया  गया है !

सरोरा के ग्राम वासियों को ये डर सताने लगा है कि क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखे गए लगभग 100 संदिग्ध लोगों के कारण हमारे ग्राम सरोरा के लोगों को कोरोना वायरस के   संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है , जिससे आक्रोशित ग्रामीण सरोरा के भाजपा पार्षद श्री लखन जोगी और  भाजपा के ही पार्षद श्री लेखराम साहू एवम् जोगी कांग्रेस के युवानेता यस पाटिल के साथ सैकड़ों लोग सरोरा के बीच बस्ती में बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर को बाहर कहीं हटाए जाने की मांग को लेकर  बिरगांव नगर निगम के आयुक्त श्रीकांत वर्मा के विरुद्ध उमड़ पड़े  !!