सिटी न्यूज रायपुर :  बीते तीन दिनों से लगातार बारिश से नदी नाले उफान पर है.  राजीव लोचन मंदिर, त्रिवेणी संगम नदी उफान के बीचोबीच भगवान श्री कुलेश्वरऩाथ जी का मनोरम दृश्य के साथ शहर और गांव पानी से लबालब होकर बाढ जैसे सुंदर और विहंगम दृश्य नजर आ रहा है,  तेज बारिश के कारण कई रूटों पर आवागमन अवरूद्ध हो चुका है.

झमाझम बारिश के कारण सिकासेर जलाशय के 7 गेटों से 15 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है. वहीं कलेक्टर ने टीएलई बैठक निरस्त कर सभी एसडीएम को तटीय इलाके में तैनात रहने का निर्देश दिया है.

सिकासेर बांध का 17 गेट खोलना पड़ा

तीन दिनों से हो रहे झमाझम बारिश से 210 एमसीएफटी क्षमता वाले सिकासेर बांध 91.8प्रतिशत के साथ  लबालब हो गया।इंचार्ज अधीकारी उत्तम सिंह ध्रुव ने बताया कि सोमवार को बांध के 22 गेट में से 17 गेट को खोल दिया गया. अब 15 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है. वेस्ट वियर से भी पानी छोड़ा जा रहा है. बांध में लगे बिजली उत्पादन यूनिट भी चालू कर दिया गया है. दोपहर से 2 यूनिट मेगावाट का उत्पादन प्रकिया शुरू कर दिया गया है.IMG 20210915 075427 scaled | City News - Chhattisgarh

नेशनल हाइवे में चढ़ा पानी

सोमवार की आधी रात को ही पैरी नदी के किनारे नेशनल हाइवे पर बसे मालगांव व पण्टोरा में सड़क पर पानी चढ़ गया है।डेढ़ फीट से ऊपर बह रहे पानी को देखते हुए प्रसाशन ने आवाजाही को रोक दिया है.