• CityNews Chhattisgarh
  • Raipur News
  • मोहन मरकाम ने कहा- रमन सिंह झूठ फैलाना बंद करें…

रायपुर। शिक्षक भर्ती आंदोलन आज स्थगित हो गया। प्रशासन के भारी दवाब के चलते शिक्षक संघ ने आंदोलन को रद्द कर दिया। दूसरी ओर अब इस मामले में कांग्रेस ने बीजेपी को घेरा है। रमन सिंह के आरोपों को शर्मनाक बताते हुए कांग्रेस ने शिक्षक पदाधिकारियों को हिरासत में लेने से इनकार किया है।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने ट्वीट कर लिखा कि आदतन झूठे और फर्जीवाड़ा विशेषज्ञ रमन सिंह फिर से झूठ फैलाते पकड़े गए हैं। यदि रमन सिंह में जरा भी हिम्मत है तो सूची जारी कर बताएं कि किसे-किसे गिरफ्तार किया गया है? वरना सावरकर की तरह 9 नहीं सिर्फ 1 बार प्रदेश से माफी मांगें। RSS की दुष्प्रचार तकनीक अब न चलेगी।

मोहन मरकाम

पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने इस मामले में कहा कि छत्तीसगढ़ के 15 साल तक मुख्यमंत्री रहे रमन सिंह ने भाजपा आईटी सेल के एक ट्रोल की भांति झूठ और दुष्प्रचार फैलाना बेहद शर्मनाक है। इतनी ओछी राजनीति करके आपको क्या मिलेगा डॉ साहब? जिनके बारे में आप लिख रहे हैं, वो स्वयं ही आपको बेनकाब कर रहे हैं। झूठ फैलाना बंद कीजिए।

बता दें कि छत्तीसगढ़ प्रशिक्षित बीएड-डीएड संघ नियुक्ति को लेकर आज CM हाउस का घेराव करने वाले थे। लेकिन प्रशासन के दबाव के चलते एक भी प्रदर्शनकारी शिक्षक धरना प्रदर्शन स्थल पर नहीं पहुंचे। फिलहाल आंदोलन रद्द होने के बाद अब शिक्षक संघ शिक्षा मंत्री से मुलाकात कर अपनी बात रखेंगे।

बताते चले कि बीएड-डीएड प्रशिक्षित संघ के आंदोलन के ऐलान के बाद रमन सिंह ने सरकार पर आरोप लगाया था कि पुलिस ने शिक्षक संघ के पदाधिकारियों को घर से उठाकर हिरासत में ले लिया है।​ जिसे लेकर कांग्रेस ने पलटवार कर बीजेपी नेता रमन सिंह, ओपी चौधरी के ट्वीट को फेक करार देते हुए झूठ और दुष्प्रचार फैलाने का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़े : CGBSE :12वीं की मेरिट लिस्ट पर सवाल, अगर नहीं बानी लिस्ट तो नहीं मिलेंगे बच्चो को मेरिट के 1.50 लाख रुपये…

raman singh - City news Raipur रमन सिंह