मोदी की Ayush Ministry ने बाबा रामदेव की दवा CORONIL से झाड़ा पल्ला, कहा- जब तक ‘जांच’ न हो जाए, तब तक न करें प्रचार..

सिटी न्यूज रायपुर …

छत्तीसगढ़ की ताज़ा खबरें…

मोदी की Ayush Ministry ने बाबा रामदेव की दवा CORONIL से झाड़ा पल्ला, कहा- जब तक ‘जांच’ न हो जाए, तब तक न करें कुछ प्रचार…

योग गुरु रामदेव की कंपनी पतंजलि ने कोरोना वायस के इलाज की दवा बना लेने का दावा किया है। कंपनी जमकर इसका प्रचार भी कर रहा है।

ICMR और आयुष मंत्रालय ने इन दावों से पल्ला झाड़ लिया है और कंपनी को दवा की जांच होने तक इसका प्रचार ना करने की हिदायत दी गई है।

आयुष मंत्रालय ने रामदेव की कंपनी पतंजलि को आदेश दिए कि कोविड दवा का तब तक प्रचार नहीं करे जब तक कि मुद्दे की जांच नहीं हो जाती।

पतंजलि की कथित दवा, औषधि एवं चमत्कारिक उपचार (आपत्तिजनक विज्ञापन) कानून, 1954 के तहत विनियमित है, यह कहना है मंत्रालय का। मंत्रालय ने पतंजलि से कहा है कि वह जल्द से जल्द उस दवा का नाम और उसके घटक बताए जिसका दावा कोविड-19 उपचार के लिए किया जा रहा है। इसके अलावा कंपनी से यह भी कहा गया है कि वह नमूने का आकार, स्थान, अस्पताल जहां अध्ययन किया गया और आचार समिति की मंजूरी के बारे में विस्तृत जानकारी दे।

 

Share on :