मरवाही होगा किसका – कांग्रेस, भाजपा या जोगी कांग्रेस का… किसके सिर में होगा जीत का सेहरा और किसके सिर फूटेगा हार का ठीकरा…!! 

City News Raipur  – CN

सिटी न्यूज के प्रमुख सम्पादक डा. आकाश देवांगन के कलम से…देखें मरवाही उपचुनाव पर खास खबर…

रायपुर –  छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी जी के देहांत के बाद खाली हुवे मरवाही विधानसभा सीट पर कब्जा करने के लिए सत्तापार्टी के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम खुद पुरी ताकत से मैदान में उतर चुके हैं,

मुख्यमंत्री श्री भुपेश बघेल भी यही चाहते हैं , इसिलिए जोगी जी के परम्परागत सीट मरवाही पर हर हालात में कब्जा करने के उद्देश्य से कांग्रेस ने पुरी ताकत झोंक दिया है …!! 

गौरतलब है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम आज से गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के दौरे पर हैं , श्री मरकाम 23 जून मंगलवार सुबह 7 बजे रायपुर से गौरेला के लिए रवाना हुवे। दोपहर 12 बजे गौरेला में जनप्रतिनिधियों और कांग्रेसजनों से चर्चा करेंगे। दोपहर 3 बजे पेण्ड्रा में जनप्रतिनिधियों व  कांग्रेसजनों से चर्चा करेंगें,  अगले दिन  24 जून को सुबह 11 बजे मरवाही में जनप्रतिनिधियों और कांग्रेसजनों से चर्चा करेंगे।  दोपहर 3 बजे मरवाही से रायपुर के लिए रवाना होंगे।

आपको बता दें कि श्री अजीत जोगी जी के निधन के बाद दूसरे दिन से ही कांग्रेस ने रणनीति के तहत मरवाही में श्री जोगी जी के खास सिपहसालार और  विधायक प्रतिनिधि रहे ज्ञानेंद्र उपाध्याय को कांग्रेस में प्रवेश कराकर यह संदेश दे दिया है  कि जोगी परिवार  का परम्परागत सीट ‘मरवाही’ का उपचुनाव अब किसी व्यक्ति या दल के लिए बिलकुल आसान नहीं होगा  !!

Breaking -   आंगनबाडी केन्द्र को बनाया कचरा घर - गर्भवती महिलायें और पड़ोसी दुर्गंध से है परेशान - पार्षद और कमिशनर की मनमानी से लोगों में है भारी आक्रोश...!!

इधर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के अध्यक्ष और जोगी कांग्रेस परिवार श्री जोगी जी के स्वर्गवास दिनांक 29 मई के बाद से अभी तक शोक से उबर नही पाया है , इस 29 जुन को श्री अजीत जोगी जी के निधन को एक महीने पुरा हो जाएगा, तत्संबंध में जोगी परिवार ने रायपुर के  निवास अनुग्रह में 29 जुन को सर्वधर्म शांति सभा एवं प्रार्थनांजली कार्यक्रम रखा है ,

संभवतः  उसके बाद ही जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के प्रदेश अध्यक्ष अमीत जोगी भी खुद  मरवाही में मोर्चा संभालेगें , हालांकि यह भी बताया जा रहा है कि मरवाही गौरेला पेंड्रा का एक – एक मतदाता जोगी परिवार के लिए समर्पित और संकल्पित है और वो सब चाहते हैं  कि श्री अजीत जोगी जी के बाद अब यह जिम्मेदारी उनके बेटे अमीत जोगी संभाले !!

बता दें,  पिता का साया सिर से उठने के बाद से अमीत जोगी के व्यवहार और कार्यशैली  में आया आमूलचूल बदलाव भी उनके जीत का रास्ता खोल सकती है , पिता श्री अजीत जोगी के निधन के बाद अमीत जोगी  के अपने नेतृत्व में यह पहला चुनाव होगा,  इस उपचुनाव का परिणाम,  अमीत जोगी का भविष्य निर्धारित करेगा !!

मरवाही चुनाव में भारतीय जनता पार्टी भी चुप नहीं बैठने वाली, 15 साल के शासनकाल के बाद 15 सीट में सिमट चुके भाजपा , मरवाही का यह उपचुनाव जीतकर, आगामी आम चुनाव में पुनः सत्ता में आने का रास्ता प्रशस्त कर सकती है,  पूर्व मुख्यमंत्री डा रमनसिंह के विश्वस्त नये प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु देव साय के नेतृत्व में यह पहला और महत्वपू्र्ण उपचुनाव है , इसलिए राष्ट्रीय नेतृत्व के सामने सिर उंचा रखने भाजपा मरवाही सीट जीतने में कोई कोर – कसर बाकी नही रखेगी  !!

कांग्रेस,  भाजपा और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे,  तीनो ही दल के प्रदेश अध्यक्षों के नेतृत्व में यह पहला उपचुनाव है, अब देखना यह लाजिमी होगा कि इस चुनाव का परिणाम किस करवट बैठता है,  किसके सर में होगा जीत का ताज और किसके सर फूटेगा हार का ठीकरा…!!

डा. आकाश देवांगन – प्रधान सम्पादक ( सिटी न्यूज )

डा. आकाश देवांगन – प्रधान सम्पादक ( सिटी न्यूज )

Share on :