Whatsapp button

छत्तीसगढ़ के जांजगीर में लगातार हो रही बारिश के चलते हालात और बिगड़ गए हैं। लीलागर नदी में बाढ़ के चलते पानी गांव में घुस गया है। इसके चलते कई परिवार फंस गए हैं। वहीं न्यूवोको विस्टास सीमेंट प्लांट की कॉलोनी में पानी भर गया है। लोगों को बचाने के प्रयास में एक युवक की बहने से मौत हो गई है। प्रशासन की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है।  

यह भी पढ़ें – क्या आप जानते है ? फैक्ट्रियों की छत पर गोल-गोल घूमने वाली चीज क्या है, यहाँ देखें ; यह कैसे काम करती है

  • न्यूवोको विस्टास सीमेंट प्लांट के अंदर बनी कॉलोनी में रात 3 बजे से भर रहा पानी
  • अकलतरा में कांग्रेस से पार्षद का चुनाव लड़ चुके युवक की बचाने के दौरान मौत

छत्तीसगढ़ के जांजगीर में लगातार हो रही बारिश के चलते हालात और बिगड़ गए हैं। लीलागर नदी में बाढ़ के चलते पानी गांव में घुस गया है। इसके चलते कई परिवार फंस गए हैं। उनको बचाने के लिए प्रशासन से गुहार लगाई गई है। वहीं न्यूवोको विस्टास सीमेंट प्लांट की कॉलोनी में पानी भर गया है। इस दौरान लोगों को बचाने के प्रयास में एक युवक की बहने से मौत हो गई है।

अकलतरा से करीब 15 किमी न्यूवोको विस्टास सीमेंट प्लांट की कॉलोनी में पानी भर गया है। लोग अंदर ही फंस गए हैं। उनको बचाने के लिए एसडीआरएफ की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है।

अकलतरा से करीब 15 किमी न्यूवोको विस्टास सीमेंट प्लांट की कॉलोनी में पानी भर गया है। लोग अंदर ही फंस गए हैं। उनको बचाने के लिए एसडीआरएफ की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है।

यह भी पढ़ें – होम आइसोलेशन को और भी बढावा देने की ज़रुरत : घर पर रहकर कोरोना के इलाज के लिये किराए पर मकान लेकर भी उठा रहे लाभ…

एक दिन पहले ही घर आया था युवक, साल भर पहले हुई थी शादी

अकलतरा से करीब 15 किमी न्यूवोको विस्टास सीमेंट प्लांट में ही कॉलोनी बनी हुई है। इसी कॉलोनी में रहने वाले स्मित सिंह (31) के पिता प्लांट में कर्मचारी है। रात करीब 3 बजे तेज पानी की आवाज सुनकर स्मित की नींद खुली तो देखा कॉलोनी में पानी भर गया है। इस पर रस्सी के सहारे फंसे लोगों को बचाने में जुट गया। स्मित ने कई लोगों को बचा लिया, लेकिन अचानक से रस्सी टूट गई।

रस्सी टूटने के कारण स्मित तेज बहाव में बह गया। बाद में उसका शव मिला है। स्मित की एक साल पहले ही शादी हुई थी। स बार उसने कांग्रेस के टिकट पर अकलतरा से पार्षद का चुनाव भी लड़ा था।

रस्सी टूटने के कारण स्मित तेज बहाव में बह गया। बाद में उसका शव मिला है। स्मित की एक साल पहले ही शादी हुई थी। स बार उसने कांग्रेस के टिकट पर अकलतरा से पार्षद का चुनाव भी लड़ा था।

रस्सी टूटने के कारण स्मित तेज बहाव में बह गया। बाद में उसका शव मिला है। स्मित की एक साल पहले ही शादी हुई थी। उसकी 8 माह की बच्ची है। स्मित एकलौता बेटा था। इस बार उसने कांग्रेस के टिकट पर अकलतरा से पार्षद का चुनाव भी लड़ा था। हालांकि हार गया था। बताया जा रहा है कि स्मित अकलतरा में ही अपने ताऊ के साथ रहता था। वह एक दिन पहले ही घर आया था।

बारिश के कारण लीलागर नदी उफान पर है। बाढ़ का पानी पास के गांव डीघोरा में घुस गया है। इसके कारण बस्ती जलमग्न हो गई है। बताया जा रहा है कि बाढ़ में गांव के 10 परिवार फंस गए हैं।

बारिश के कारण लीलागर नदी उफान पर है। बाढ़ का पानी पास के गांव डीघोरा में घुस गया है। इसके कारण बस्ती जलमग्न हो गई है। बताया जा रहा है कि बाढ़ में गांव के 10 परिवार फंस गए हैं।

यह भी पढ़ें – छत्तीसगढ़ में भारी बारिश से कई जगह जनजीवन अस्त व्यस्त, हाइवे समेत कई रास्ते बंद

डीघोरा गांव में रात से फंसे हैं ग्रामीण, घरों में घुसा पानी

बारिश के कारण लीलागर नदी उफान पर है। बाढ़ का पानी पास के गांव डीघोरा में घुस गया है। इसके कारण बस्ती जलमग्न हो गई है। लोगों के घरों में पानी भर गया है। बताया जा रहा है कि बाढ़ में गांव के 10 परिवार फंस गए हैं। ये ग्रामीण रात से फंसे हुए हैं। उनको बचाने के लिए प्रशासन और शासन से गुहार लगाई है। वहीं गांव के सरपंच ने बाढ़ में 20 से ज्यादा लोगों के फंसे होने की पुष्टि की है।

   

घर पर रोज़ चेक करें : ऑक्सीजन की मात्रा 90 % से कम होना कोरोना का लक्षण

    विज्ञापन हेतु संपर्क करें – 8889075555