सिटी न्यूज रायपुर –

रायपुर – बीरगांव नगर निगम क्षेत्र के शहीद नगर में कोरोना के दो नये केस पाजीटिव  मिलने के बाद से पुरे क्षेत्र के रास्तों को बेरीकेटिंग करके कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है और बीरगांव को संपूर्ण लाकडाउन घोषित कर दिया गया है,

जिस जगह वार्ड नंबर 34 शहीद नगर बिरगांव में दो कोरोना का मरीज मिला है वहां उसी मोहल्ले में  अंग्रेजी शराब दुकान की दूकान भी है जो लगातार खुले रहने से बीरगांव वासियों में आक्रोश व्याप्त है,  बीरगांव व्यापारी संघ के अध्यक्ष श्री पुरुषोत्तम देवांगन और जोगी कांग्रेस के महापौर प्रत्याशी युवा नेता श्री एवज देवांगन ने कहा कि सरकार शराब दुकान को तत्काल बंद करे  !!

गर्मी के कारण अभी बिरगांव क्षेत्र  में पेेयजल की विकराल समस्या है जिसके लिए नगर निगम बिरगांव से गलियों में टैंकर से पानी सप्लाई होता है अब लोग  चिंतित है  कि टैंकर कहां से आएगा और लोग पानी कहां से लायेगें ।

वार्ड के युवा नेता श्री ध्रुव राजपूत ने बताया कि हमारे वार्ड नं.31चंद्रशेखर आजाद नगर निगम बिरगांव के गली को पुर्ण रूप से चारो दिशा से बंद  लाकडाऊन कर दिया है यहां पेयजल की गंभीर समस्या से लोग जूझ रहे हैं निगम के अधिकारियों से कोई मदद नहीं मिल रहा है  !!

राजधानी रायपुर और बीरगांव में गुरुवार को एक ही  दिन में  8 कोरोना संक्रमित मिलने के बाद सभी संबंधित इलाके रातों-रात सील कर दिए गए हैं। बिरगांव और उरला आज से पूरी तरह लॉकडाउन कर दिए गये । पिछले कंटेनमेंट जोन को मिलाकर अब घने शहरी इलाके में कंटेनमेंट जोन की संख्या 22 हो गई है। इनसे तकरीबन 75 हजार लोग प्रभावित हुए हैं। जहां भी संक्रमित व्यक्ति मिला है, उसके मकान के 500 मीटर दायरे का इलाका सील करके सेनिटाइज किया जा रहा है। उरला मैटल पार्क स्थित कैलाशनगर के जिस श्रमिक की कोरोना से मृत्यु हुई थी, उसी के आसपास 2 और मरीज निकल गए हैं। इस वजह से स्वास्थ्य विभाग ने उरला-बिरगांव इलाके में जांच बढ़ा दी है और वहां के काफी इलाका  को कंटेनमेंट जोन की वजह से पूर्ण रूप से बंद  कर दिया गया है।

 

बीरगांव  में गुरुवार को दाे और मरीज मिले है। मृतक जिस फैक्ट्री में काम करता था, उस फैक्ट्री और उससे लगे लेबर क्वार्टर को भी सील कर दिया गया था, लेकिन वहां से भी एक मरीज और मिल गया है। इसलिए पूरे इलाके को बड़े कंटेनमेंट जोन में तब्दील कर दिया गया है। इस इलाके में स्वास्थ्य विभाग ने जांच बढ़ा दी है।

पुलिस ने बताया कि कंटेनमेंट जोन 14 दिन तक रहेगा और बड़ी संख्या में लोगों की जांच होगी। इस दौरान मरीज नहीं मिले तो कंटेनमेंट एरिया हटा दिया जाएगा।

रायपुर के इतने इलाके सील, इमरजेंसी को छोड़कर किसी तरह के आने-जाने पर बैन

  • देवेंद्र नगर सेक्टर-5 : मंडी गेट रोड, सेक्टर-5 का इलाका, मार्केट रोड।
  • फाफाडीह कुम्हारपारा : कुम्हापारा, रमण मंदिर वार्ड व हनुमान मंदिर रोड।
  • देवपुरी गेलाराम नगर : देवपुरी रोड और गेलाराम कॉलोनी।
  • बिरगांव इतवारी बाजार : इतवारी बाजार रोड और बस्ती का इलाका।
  • उरला मेटल पार्क रोड : मेटल पार्क रोड स्थित बस्ती का हिस्सा।
  • सड्‌डू कॉलोनी बीएसयूपी काॅलोनी, सड्डू सेक्टर एरियर, कैपिटल होम्स।
  • सांईनगर वाणिज्य कर ऑफिस, भाटापारा, फाफाडीह की सड़क।
  • कैलाश नगर मेटल पार्क रोड, कैलाश नगर और आसपास का इलाका।
  • रावांभाठा बांधा तालाब, बस्ती इलाका और आरटीओ दफ्तर के पीछे।
  • दोंदे खुर्द दोंदे खुर्द बस्ती और आसपास का इलाका।
  • चंगोराभाठा काली मंदिर रोड, पार्षद का घर और चंगोराभाठा बस्ती।
  • प्रीतम नगर टीचर कॉलोनी पुलिस, अशोक नगर रोड और प्रीतम नगर।
  • गुरुमुख नगर न्यू राजेंद्र नगर, केनाल रोड और बस्ती का इलाका ।
  • रावांभाठा बंजारी जौहर नगर, आरटीओ दफ्तर के पीछे का हिस्सा।
  • रामसागर पारा बढ़ईपारा, रामसागरपारा और अग्रसेन चौक रोड।
  • हिमालया हाईट्स हिमालया हाइट्स कॉलोनी और आसपास की रोड
  • गणपति स्टील उरला गणपति फैक्ट्री और लेबर क्वार्टर।