SALE 80% OFF| 100 मास्क | ऑफर सिर्फ इस हफ्ते तक | अभी खरीदें | सुरक्षित रहें

बीरगांव में खुलेआम गुंडागर्दी के साथ अवैध गांजा की बिक्री से पुलिस और सरकार की छबी हो रही खराब…!!

सिटी न्यूज रायपुर – CN

पुलिस प्रशासन और सरकार पर अवैध गांजा बेचने वालों को संरक्षण देने का लग रहा है आरोप…

रायपुर । राजधानी रायपुर से लगे बीरगांव निगम क्षेत्र में पुलिस द्वारा गाांजा तस्करी करने वालो एवम्  खुलेआम गांजा बेचने वालो पर कोई कार्यवाही नहीं की जा रही हैं। मुख्य मार्गों पर गांजा तस्करी करने वाले लोग अब खुलेआम जगह जगह गांजा बेचते नजर आ जातेे हैं।

पुलिस गांजा विक्रय करने वालों पर स्वमेव तो कार्यवाही नही करती बल्कि आमजनों केे शिकायत के बावजूद भी कार्यवाही नही होती तो पुलिस की कार्यशैली पर भी उंगलियां उठना स्वाभाविक  है,  लोग तो यहां तक बोल रहे हैं कि गांजा बेचने वालों को संरक्षण देने के बदले पुलिस के माध्यम से बडे बडे  नेताओं तक भारी भरकम राशि पहुंचता है , तभी तो  अवैध गांजा के नशे का कारोबार फैल चुका है,  बीरगांव निगम क्षेत्र के बच्चों और युवाओं को नशे की गिरफ्त में जकड़ते जा रहा है , अवैध कारोबारियों पर कडी कार्यवाही नही होने से पुलिस प्रशासन तथा सरकार की छबी लगातार  खराब होते जा रही  है  !!

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले डेढ करोड रुपए के गांजा के साथ रायपुर ग्रामीण नेता  के खासमखास बीरगांव का एक कांग्रेस पार्षद झांसी में पकडाया था , जिसे छत्तीसगढ़, रायपुर या बीरगांव की पुलिस नही पकड़ी, जिससे लोगों का पुलिस पर संदेेेह बढाता है, उरला थाना से चंद कदम दूर,  पुलिस के नाक के नीचे  बीरगांव में ही खुलेेआम अवैध गांजा बेचने वालों की गुंडागर्दी इस हद तक बढ़ गई है कि मीडिया के संवाददाता पर गांंजा बेचने वालों ने गैंंग के साथ मीडिया पर जानलेवा हमला कर दिया , बताया जा रहा है कि ये सभी आरोपी सत्तापक्ष के बडे नेता का खास है,  कुछ पार्षद भी इन लोगों के साथ है, धारदार हथियार से जानलेवा हमला करने वाले मुख्य सरगना  सहित बाकी अपराधियों को अभी तक पुलिस फराऱ बता रही है जबकि उन गुुंडो को बीरगांव में ही फिर से खुलेआम गांजा बेेेेेचते देखा जा सकता है  !!

राजधानी एवम् बीरगांव के कई रास्तों पर ऐसे स्पॉट हैं, जहां से गुजरने से ही गांजा पीने वालों की गंध मिल जाती हैं, जिससे ये पता चल जाता हैं कि उस स्थान में गांजा बेचने वाले बैठे हैं, मगर ये गंध पुलिस नहीं सुंघ पा रही है ,  जिससे गांजा तस्कर और सक्रिय हो जाते हैं।

रायपुर के बीरगांव इलाके में गांजा बेचते हुए युवकों को किसी का डर नहीं हैं।

बीरगांव उरला समेत आसपास के इलाके में ओडिशा और बस्तर इलाके से बड़े पैमाने पर गांजा लाकर में खपाया जा रहा है। निगम  के सभी इलाके में गांजा तस्कर सक्रिय हैं। सुबह , दोपहर , शाम और  रात में गांजा बेचने वाले आरोपी तालाबों के आस पास , सुलभ शौचालय के पास या पान ठेले के पीछे बैठकर गांजा का कारोबार चला रहे हैं।

तस्कर के लड़के गांजे की 50 से 400 रुपए तक का पुड़िया बनाकर बेचते हैं वो भी सैकड़ों पुडिय़ां दिन भर में बेचते है , बीरगांव निगम क्षेत्र में लगभग 5 लाख रुपए का रोज का बिक्री बताया जा रहा है !!

बेझिझक गांजा बेचने वाले इन युवकों को पुलिस के आने का कोई डर भी नहीं होता,  गांजा बेचने वाला आरोपी थैले में पुडिय़ा लेकर आता हैं, खुलेआम बेचता है,  पुलिस की नाक के नीचे हो रही गांजे की इस बिक्री से जनता का विश्वास पुुुुलिस और सरकार  से उठता जा रहा है  !!

Share on :