• City News chhattisgarh
  • Crime News

कोरबा जिले से ट्रिपल मर्डर और गैंगरेप की सनसनीखेज खबर सामने आई है। जिस व्यक्ति के घर पर राष्ट्रपति का दत्तक कहा जाने वाला पहाड़ी कोरबा परिवार काम करता था, वही संतराम बिझवार इस मर्डर और गैंगरेप का मास्टर माइंड न‍िकला।

संतराम के घर में एक परिवार काम करता था और उसी परिवार की एक 16 वर्षीय लड़की पर उसकी बुरी नज़र थी। लड़की जब भी घर में अकेली होती तो संतराम उससे अश्लील हरकत करता।

लड़की ने इस बात की जानकारी अपनी मां को दी और बताया कि संतराम उससे शादी करने की बात कहता है लेकिन वो उसके साथ नहीं रहेगी न ही काम करेगी।

रायपुर में पति से विवाद के बाद झोपड़ी बनाकर रह रही महिला के घर में पति ने ही लगा दी आग

इसके बाद परिवार संतराम के यहां से काम छोड़ना चाहता था लेकिन संतराम लड़की की वजह से परिवार को जाने नहीं देना चाहता था।

शुक्रवार 29 जनवरी को परिवार किसी आदिवासी त्योहार का बहाना बनाकर जाने लगा तो संतराम के दिमाग में सनक चढ़ गई।

भेड़-बकरियों के भी बनाएं जाएंगे ‘आधार कार्ड’, केंद्र-राज्य सरकारों की योजनाओं का मिलेगा लाभ

उसने मर्डर की प्लानिंग कर अपने एक साथी उमाशंकर को मृतका की मां और भतीजी को स्टैंड छोड़ आने को कहा और कहा कि बाद में मृतका, पिता और दूसरी भतीजी को छोड़ आएगा लेकिन बाद में जंगल मे ले जाकर पिता, पुत्री और भतीजी की हत्या कर दी।

पुलिस को दिए बयान में किशोरी की मां ने आरोप लगाया है कि उसकी 16 साल की बेटी से सामूहिक दुष्कर्म किया गया है। संतराम उसकी बेटी को अपनी घरवाली बनाना चाहता था, लेकिन वो तैयार नहीं थे।