रायपुर – बीरगांव के अडवानी स्कूल मैदान में पिछले 18 साल से लगातार डा. ओमप्रकाश देवांगन के संरक्षण वाली समिति द्वारा रावण के विशाल पुतले का दहन कर भव्य दशहरा उत्सव मनाया जाता है , जिसका आनंद उठाने क्षेत्र के हजारों लोग परिवार सहित शामिल होते है ,,  समिति के अध्यक्ष बेदराम साहू ने बताया कि हमने दो महिना पहले 24 अगस्त 2021 को अडवानी स्कुल मैदान में दशहरा मनाने की अनुमति हेतु स्कुल के प्रिसिंपल, जिला शिक्षा अधिकारी और कलेक्टर रायपुर को आवेदन देकर पावती लिये थे, FB IMG 1634004205685 | City News - Chhattisgarh FB IMG 1634004194008 | City News - Chhattisgarhआवेदन के एक महिने बाद स्कुल प्रबंधन द्वारा मौखिक जानकारी दी गई कि स्कुल परिसर में निर्माण कार्य चल रहा है इसलिये इस साल अडवानी स्कूल में दशहरा की अनुमति देना संभव नही होगा,, हमने कहा कि स्कूल में जो ग्राउंड खाली है वह भी दशहरा उत्सव के लिये पर्याप्त है लेकिन उपर से दबाव होने का कारण बताकर अनुमति देने से इंकार कर दिये,, तत्पश्चात टकराव की स्थिति को टालने समिति से चर्चा उपरांत दिनांक 29 सितम्बर 2021 को उरला थाना के पास csidc  के  रिक्त पडे विशाल पार्किंग स्थल पर रावण दहन करने की अनुमति मांगी गई,, IMG 20211011 224053 scaled | City News - Chhattisgarh FB IMG 1634010415964 scaled | City News - Chhattisgarhcsidc  ने भी सुरक्षा कारणों का बहाना कर अनुमति नही दिये जाने की लिखित सूचना हमें भेज दी गई,  जब वहां मिलने गये तो – वहां के बडे अधिकारी ने हमें मौखिक बताया कि सत्ता में बैठे आपके क्षेत्रीय नेता के पुत्र का हम पर बहुत दबाव है, तब हमने पुन: कलेक्टर को आवेदन देकर अडवानी स्कूल में ही रावन दहन और दशहरा उत्सव मनाने अनुमति देने की मांग किये है,, बेदराम साहू ने बताया कि पिछले 18 साल में दशहरा उत्सव के दौरान अडवानी स्कूल मे कभी किसी प्रकार घटना दूर्घटना नही हुई है , और ना ही कोई नुकसान हुवा है बल्कि यह बीरगांव क्षेत्र का हृदय स्थल है और एकमात्र विशाल मैदान है,, जहां लोग परिवार सहित दशहरा उत्सव का आनंद उठाते है,,  बेदराम साहू ने बताया कि कांग्रेस के विधायक और उनके बेटे नही चाहते कि बीरगांव के लोग खुशियां मनाये, परम्परागत विश्वकर्मा भगवान की पूजा के बाद अब दशहरा उत्सव पर भी अडंगा लगाकर विवाद पैदा कर क्षेत्र में अशांति पैदा करना चाहते है, बेदराम साहू ने चेतावनी देते हुवे कहा कि मुख्यमंत्री भुपेश बघेल के पिता नंदकुमार बघेल घुमघुमकर रावण का पूजा कर रहे है वहीं दूसरी ओर कांग्रेस सरकार के विधायक और उनके बेटे लालबत्ती पाने की लालच में अधर्मी रावण को जलाने से रोक रहे है यह षडयंत्र कांग्रेस की सोची समझी चाल है,  सोनिया परम्परा को छत्तीसगढ में बढावा देकर हिन्दुओं को कमजोर करने की विधायक पुत्र असफल प्रयास कर रहे  है,  आदिशक्ति मां दुर्गा जी से शक्ति का वरदान पाकर भगवान श्रीराम ने रावण को मारा था,,  हम विधायक पुत्र को चेतावनी देते है कि यदि अडवानी स्कूल में दशहरा मनाने की अनुमति नही दी गई तो भी हम वहीं बुराई, असत्य और अधर्म के प्रतीक रावण के पुतले का दहन कर परम्परा का निर्वहन हर हालात में करके दिखायेगें , चाहे सत्ता के नशे में चुर , आतंक मचाने वाले कांग्रेस विधायक पुत्र हमें जेल भेजे या फांसी पर चढा दे  !!IMG 20210129 100220 | City News - Chhattisgarh

यही हाल रायपुर के BTI ग्राउंड का…

राजधानी रायपुर के BTI ग्राउंड में इस बार दो दुर्गा पंडाल देखने को मिल रहा हैं। ये पहली बार है, जब इस तरह मैदान में दुर्गा पूजा को लेकर कांग्रेस छीनाझपटी कर रही है,, भाजपा नेता संजय श्रीवास्तव जो बीटीआई ग्राउंड में आयोजित दुर्गा पूजा कार्यक्रम से जुड़े रहे हैं पिछले 17 सालों से उनकी समिति बीटीआई ग्राउंड में गरबा और दुर्गा पूजा कार्यक्रम आयोजित करती आ रही है,, दशहरा उत्सव को लेकर यहां भी विवाद किया जा रहा है,  उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार बदलने के बाद इलाके के कुछ कांग्रेसी नेता इस कार्यक्रम का राजनीतिकरण कर रहे हैं। पिछले 17 सालों से उनकी समिति बीटीआई ग्राउंड में गरबा और दुर्गा पूजा कार्यक्रम आयोजित करती आ रही है। इस तरह के धार्मिक आयोजन का राजनीतिकरण होने से बचाया जाना चाहिए।IMG 20211012 101936 | City News - Chhattisgarh

भाजपा नेताओं के खिलाफ केस दर्ज…
मैदान में दुर्गा पूजा के तो दो पंडाल लगा लिए गए मगर दशहरा उत्सव को लेकर भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने शंकर नगर चौक पर चक्का जाम किया , इस मामले में कांग्रेस सरकार ने भाजपा नेता संजय श्रीवास्तव समेत 18 नेताओं के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कर दी । इसमें भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष सच्चिदानंद उपासने का भी नाम शामिल है,,  बिना अनुमति के विरोध प्रदर्शन करने बलवा का केस दर्ज कऱ दिया गया है।