सिटी न्यूज रायपुर । प्रदेश में आपराधिक तत्वों के कारण ख़ौफ़ का माहौल बन गया है, कोई भी किसी को कहीं भी बुलाकर उसकी जान ले रहा है, लेकिन पुलिस तंत्र न तो इन अपराधियों के प्रति सख़्त हो रही है, और न ही उनमें क़ानून के राज का कोई ख़ौफ़ पैदा कर रही है. यह बात भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता राजेश मूणत ने कही….

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने प्रदेश में लगातार घट रहीं आपराधिक वारदातों के मद्देनज़र प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि आपराधिक तत्व लगातार प्रदेश में क़ानून के राज और क़ानून-व्यवस्था को खुली चुनौती दे रहे हैं, लेकिन अपनी कुर्सी बचाने की फ़िक्र में सियासी नौटंकियाँ करती प्रदेश सरकार को आम आदमी की सुरक्षा की ज़रा भी फ़िक्र नहीं है. लगातार आपराधिक घटनाओं के चलते प्रदेश के हालात बेहद गंभीर हो चले हैं. प्रदेश का हर वर्ग अपनी आबरू और ज़िन्दग़ी को लेकर चिंतित है.

राजेश मूणत ने राजधानी में एक हत्या और विधानसभा उपाध्यक्ष के बेटे के साथ हुई मारपीट की ताज़ा घटनाओं का ज़िक्र कर कहा कि जब नामचीन राजनीतिक नेताओं के बेटे तक इस सरकार के राज में सुरक्षित नहीं हैं, तब यह सवाल उठना लाज़िमी है कि क्या नागरिक सुरक्षा जैसी किसी चीज का कोई अस्तित्व प्रदेश में मौज़ूद है भी या नहीं?

मूणत ने हत्या की लगातार वारदातों पर चिंता जताते हुए प्रदेश सरकार से जानना चाहा कि आख़िर कब तक आम लोग यूँ ही मारे जाते रहेंगे? इन हत्याओं को आख़िर यह सरकार क्यों नहीं रोक पा रही है? आख़िर कब तक प्रदेश सरकार और उसके गृह मंत्री कब तक स्मार्ट पुलिसिंग का झुनझुना बजाकर प्रदेश को बरगलाते रहेंगे?

पूर्व मंत्री मूणत ने कहा कि गंगाजल की कसमें खाकर भी पूर्ण शराबबंदी के वादे पर प्रदेश के साथ खुली धोखाधड़ी कर रही प्रदेश सरकार को इस तथ्य के बावज़़ूद शर्म महसूस नहीं हो रही है कि हत्या समेत अमूमन सभी अपराध नशाखोरी और शराबखोरी के चलते अंजाम दिए जा रहे हैं. उन्होंने चेतावनी दी कि प्रदेश सरकार ने नशाखोरी और अपराधों पर तत्काल अंकुश नहीं लगाया तो भाजपा राजधानी और प्रदेशभर में नगाड़ा बजाकर प्रदेश सरकार को कुंभकर्णी नींद से जगाने का अभियान छेड़ेगी.