सिटी न्यूज रायपुर  CN

छत्तीसगढ़ में गांजा तस्करों का जाल छत्तीसगढ़ के कोने कोने में फैल चुका है …, लेकिन सवाल यह उठता है कि यह अवैध कारोबार का जाल यहां फैला कैसे,  कौन लोग हैं इसके जिम्मेदार,  क्या छत्तीसगढ़ में होता है इनकी पैदावार या फिर किस प्रदेश से आता है यह गांजा ,  कौन देता है इनको संरक्षण,  20 साल के युवा छत्तीसगढ़ को कौन ढकेल रहा है गांजा जैसे मस्तिष्क और शरीर को तबाह कर देने वाले  नशे में , आखिर इन तस्करों के पीछे या पर्दे के पीछे – क्या सरकार का हाथ भी हो सकता है…?

जगदलपुर – नगरनार पुलिस ने ट्रक में 3 क्विंटल गांजे के साथ दो आरोपियो को गिरफ्तार किया है।

मुखबिर की सूचना पर नाकाबंदी कर गाड़ियों की चेकिंग चल रही थी।

इस दौरान पुलिस ने ट्रक को रोककर उसकी चेकिंग की।

फिलहाल पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है।

मामले की जानकारी देते हुए नगरनार टीआई शिवशंकर गेंदले ने बताया कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि एक ट्रक में सवार दो लोग संदिग्ध सामान लेकर ओड़िसा की ओर से जगदलपुर की तरफ जा रहे हैं।

सूचना मिलते ही पुलिस ने धनपुंजी के पास नाकेबंदी करते हुए आने–जाने वाले वाहनों की तलाशी लेना शुरू कर दिया।

इसी दौरान पुलिस ने ओड़िसा की ओर से आ रहे एक ट्रक एचआर 55 एक्स 9982 को रोका।

इसके बाद पुलिस ने वाहन की तलाशी लेने के साथ उसमें सवार हरियाणा निवासी इरसाद खान (33) और मुस्तकीम खान (19) से पूछताछ शुरू की।

इसी दौरान पुलिस ने ट्रक में छिपाकर रखे तीन क्विंटल 20 किलो गांजा बरामद किया।

जिसकी कीमत पुलिस ने  16 लाख रुपये आंकी है।

गांजा बरामद करने के बाद पुलिस ने तत्काल दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया !

पुलिस ने एनडीपीएस की धारा 20 (ख) के तहत मामला दर्ज करते हुए आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है।

छत्तीसगढ़ में बेख़ौफ गांजा की तस्करी , आज 14 जुन 2020 को फिर – 35 लाख का गांजा पकड़ाया…!!

सुकमा  –  छिंदगढ़ पुलिस को 35 लाख रुपए का गांजा पकड़ने में सफलता मिली है. गांजा तस्कर मौके से गाड़ी छोड़कर फरार हो गया.!

मिली जानकारी के मुताबिक छिंदगढ़ थाना प्रभारी प्रमोद कश्यप के हमराह में देहात पेट्रोलिंग मोटर सायकिल से निकली हुई थी.

छिंदगढ़ के पास बाल्टिकर ग्राम सड़क किनारे दूर से आते पुलिस को देख कर गांजा सहित पिकअप छोड़ कर , पिकअप चालक फरार हो गया.

मौके पर पहुंच कर थाना प्रभारी प्रमोद कश्यप ने अपने वरिष्ट अधिकारी पुलिस अधिकारी तोंगपाल को जानकारी दी.

जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंच करअनुराग झा ने मौके पर पहुंच कर कार्रवाई किया !

726 किलो गांजा एवं एक सफेद रंग का बिना नंबर का पिकअप जब्त किया गया . गांजे की अनुमानित मूल्य 35 लाख बताया जा रहा है. !!

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले बीरगांव के  कांग्रेस पार्षद संजय सिंह,  गांजा जैसे नशे का कारोबार करते,  दो डम्फर में 1025 किलो गांजा सहित जिसकी बाजार मूल्य लगभग डेढ़ करोड़ रुपये की बताई गई है, वह झांंसी में पकड़ाया था ,

आपको हम बता दें कि – बीरगांव में गांजा तस्करों की गुंडागर्दी इस हद तक बढ़ चुकी है कि मीडिया पर जानलेवा हमला किया गया,  खुलेआम धडल्ले से गांजा बेचे जाने के बावजूद – बडे बडे डींगे हांकने वाले लोगों में किसी की हिम्मत नही कि उन्हें रोक सके,  क्पुुुुंकि पुलिस के हाथ भी इन लोगों ने बांध रखे हैं  !!