Saturday, August 8, 2020
Home India news Chhattisgarh news

कोरोना भी डरे हल्दी से, हल्दी बनाये आपको हेल्दी

15

सिटी न्यूज –

इम्यूनिटी बूस्टर

विशेषज्ञों के मुताबिक, हल्दी का नियमित सेवन आपकी रोग प्रतिरोधख क्षमता बढ़ाने में सहायक है। इसमें लिपोपॉलीसेकेराइड नामक एक पदार्थ होता, जिसमें एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल और एंटी-फंगल एजेंट होते हैं जो हमारी इम्यूनिटी को बूस्ट करने का काम करते हैं।

आयुर्वेद में हल्दी को औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है और हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, हल्दी के सेवन से आपके रक्त में मौजूद हानिकारक तत्व बाहर निकल जाते हैं और इससे ब्लड सर्कुलेशन भी अच्छा रहता है।

हल्दी के औषधीय गुणों से हर कोई वाकिफ है और आजकल तो वायरस से लड़ने के लिए डॉक्टर्स और हेल्थ एक्सपर्ट्स भी हल्दी के सेवन की सलाह दे रहे हैं। हल्दी में ढेर सारे गुण होते हैं। यह त्वचा की रंगत निखारने से लेकर दर्द से राहत और सर्दी-खांसी से छुटकारा दिलाने में बहुत मददगार होता है। खांसी और दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए विशेषज्ञ इसे रामबाण मानते हैं।

आपके घर के बड़े बुजुर्ग चोट लग जाने या सर्दी-खांसी होने पर अक्सर हल्दी वाला दूध पीने की सलाह देते होंगे, साथ ही सदियों से रंग निखारने के लिए हमारे यहां हल्दी का उबटन लगाने की परंपरा है, लेकिन अब तो हेल्थ एक्पर्ट्स भी हल्दी वाला दूध पीने और हल्दी के पानी से गरारे की सलाह दे रहे हैं। दरअसल, कोरोना वायरस से बचाव और इम्यूनिटी बूस्ट करने में हल्दी भी बहुत मददगार है। यह वजह है कि विशेषज्ञ भी लोगों को हल्दी का सेवन करने की सलाह दे रहे हैं। चिकित्सकों के मुताबिक, हल्दी में ढेर सारे ऐसे तत्व मौजूद हैं तो आपको दर्द से राहत दिलाने के साथ ही इम्यूनिटी भी बूस्ट करता है।

पाचन तंत्र को रखे दुरुस्त 

हल्दी में क्युरक्यूमिन होता है, जो पित्त उत्पादन को एक्टिवेट करता है और पाचन को बढ़ाता है। पित्त अधिक बनने से भोजन आसानी से पच जाता है और इससे पेट में सूजन और गैस की समस्या नहीं होती है।

दिल को स्वस्थ रखता है

आयुर्वेद में हल्दी को औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है और हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, हल्दी के सेवन से आपके रक्त में मौजूद हानिकारक तत्व बाहर निकल जाते हैं और इससे ब्लड सर्कुलेशन भी अच्छा रहता है। यह रक्त को गाढ़ा नहीं होने देता जिससे धमनियों में रक्त प्रवाह सुचारु रूप से होता रहता है और दिल संबंधी बीमारियों नहीं होती। रक्त गाढ़ा होने से हार्ट अटैक और दिल संबंधी अन्य बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। एक अध्ययन के अनुसार, हल्दी दूध के सेवन से सर्जरी के बाद आने वाले हार्ट अटैक के खतरे को काफी हद तक टाला जा सकता है।

 

डायबिटीज में फायदेमंद

डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जिसने खासतौर पर शहरी आबादी के एक बड़े हिस्से को अपनी जद में ले लिया है। इसकी बहुत बड़ी वजह है गलत जीवनशैली और खानपान की आदतें। ऐसे में हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि स्वस्थ खान-पान के साथ ही हल्दी के सेवन से इस बीमारी के खतरे को कम किया जा सकता है। इस बीमारी से जुड़े एक अध्ययन के मुताबिक, हल्दी के सेवन से न सिर्फ डायबिटीज का खतरा कम होता है, बल्कि डायबिटीज पेशेंट इससे होने वाले जोखिम से भी बच सकते हैं।

त्वचा के लिए उपयोगी

दाग-धब्बों से लेकर रंग निखारने तक हल्दी त्वचा संबंधी ढेरों समस्याओं से छुटकारा दिलाता है। यदि आपके चेहरे पर पिंपल्स के दाग धब्बे हैं तो चेहरे पर हल्दी का लेप या बेसन में हल्दी मिलाकर नियमित रूप से लगाने से जल्द ही त्वचा साफ हो जाती है।

 

अच्छी नींद

विशेषज्ञों के मुताबिक, जिन लोगों को नींद न आने की समस्या है उन्हें रात में सोने से पहले हल्दी वाला दूध पीना चाहिए। दरअसल, हल्दी में मेलाटोनिन नामक हार्मोन को बढ़ाने वाला गुण होता है जिससे नींद जल्दी आ जाती है। जब आप रात को समय पर सो जाएंगे तो सुबह बिल्कुल फ्रेश और एनर्जेटिक महसूस करेंगे।