असंवेदनशीलता की पराकाष्ठा – मुख्यमंत्री निवास के सामने आत्मदाह की कोशिश करने वाले गंभीर युवक को देखने – छत्तीसगढ़ सरकार के कोई भी मंत्री विधायक या नेता अभी तक नहीं पहुंचा अस्पताल …अमीत जोगी ने दिया एक लाख रुपये का चेक…!!

सिटी न्यूज़ रायपुर

राजधानी की ताजा खबरें

रायपुर – छत्तीसगढ़  1 जुुुुुलाई  2020  – मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के सरकारी निवास के सामने 2 दिन पहले खुद को जलाकर आत्मदाह की कोशिश करने वाले बेरोजगार युवक हरदेव सिन्हा जो कि अभी रायपुर के कालडा नर्सिंग होम में भर्ती है , डॉक्टर कालरा ने बताया कि  65% जले हरदेव सिन्हा की  हालत काफी गंभीर है !!

चिंता का विषय यह है कि राजधानी में और वह भी मुख्यमंत्री निवास के सामने आत्मदाह करने वाले युवक,  जिनकी हालत अत्यंत गंभीर है उसे देखने अभी तक मुख्यमंत्री , स्वास्थ्य मंत्री और ना ही कोई मंत्री या कोई विधायक या सत्ता दल के कोई भी नेता 3 दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक हरदेव सिन्हा को देखने  कोई अस्पताल नहीं पहुंचे हैं ,

ऐसे में असहाय हरदेव सिन्हा के पिता श्री प्यारेलाल सिन्हा का रो रो कर बुरा हाल है उन्होंने बताया की हरदेव लाल सिन्हा के दो छोटे-छोटे बच्चे हैं जो कि आंगनबाड़ी में पढ़ाई करते हैं उनकी पत्नी और पूरा परिवार गांव में बहुत चिंतित है यहां अस्पताल में अकेले हरदेव सिन्हा के पिता अपने बेटे हरदेव सिन्हा को जीवन और मौत से संघर्ष करते हुवे अपने बेटे को पल पल तड़पते हुए देखकर अत्यंत पीड़ा महसूस कर रहे हैं

गौरतलब है कि एक नौजवान युवक बेरोजगारी और आर्थिक स्थिति से तंग आकर मुख्यमंत्री के समक्ष मदद की गुहार लगाने राजधानी रायपुर में मुख्यमंत्री निवास पहुंचने के बाद भी उनको मुख्यमंत्री से मिलने नहीं दिया गया जिससे हताश नवयुवक वहीं पर मुख्यमंत्री के निवास के समक्ष ही खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा लिया था !

सवाल यह उठता है कि छत्तीसगढ़ सरकार की यह असंवेदनशीलता है कि राजधानी में घटना घटने के बावजूद सरकार का कोई भी व्यक्ति 3 दिन बीत जाने के बाद पीड़ित मरीज़ का हालचाल पूछने तक नहीं गया ,

ऐसे में जब  पता चला कि  सत्ता पक्ष या विपक्ष के छोटे या बड़े नेता कोई भी अभी तक  हरदेव सिन्हा की मदद के लिए अस्पताल नहीं पहुंचा है तो सबसे पहले हरदेव सिन्हा की मदद करने पहुंचे छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री स्वर्गीय श्री अजीत जोगी जी के सुपुत्र एवं जोगी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष श्री अमित जोगी कालडा अस्पताल पहुंचकर गंभीर रूप जले हरदेव सिन्हा से मिले तथा डॉक्टर कालडा से भी मुलाकात कर उसे बेहतर से बेहतर इलाज के लिए आग्रह किया एवं अपनी ओर से सहायता के रूप में ₹100000 , एक लाख रुपये का चेक हरदेव सिन्हा के पिता श्री प्यारे लाल सिन्हा को सौंपा !!

Share on :