SALE 80% OFF| 100 मास्क | ऑफर सिर्फ इस हफ्ते तक | अभी खरीदें | सुरक्षित रहें

अमीत जोगी ने जताई चिंता – “गरीब कल्याण रोजगार अभियान” में छत्तीसगढ़ को जगह नहीं मिलना बेहद निराशाजनक…

सिटी न्यूज CN

केंद्र सरकार आज 20 जून को प्रवासी मजदूरों के लिए ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ बिहार में लॉन्च करने जा रही है, जिसमें 6 राज्यों के 116 जिले शामिल हैं. इन जिलों में छत्तीसगढ़ का एक भी जिला शामिल नहीं है. जिस पर JCCJ के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने चिंता जताई है.

रायपुर: कोरोना संकट के दौरान प्रवासी मजदूरों के लिए केंद्र सरकार ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ आज 20 जून को लॉन्च करेगी. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल इस मिशन की शुरुआत बिहार से करने वाले हैं. छत्तीसगढ़ के एक भी जिले को इस अभियान में शामिल नहीं किए जाने पर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जोगी) के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने इसे निराशाजनक बताया है.

अमित जोगी ने कहा कि केंद्र सरकार प्रवासी मजदूरों के लिए एक महत्वकांक्षी योजना ग्रामीण कल्याण रोजगार अभियान शुरू कर रही है. देश के 116 जिलों में यह योजना चलाई जाएगी, लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि छत्तीसगढ़ से एक भी जिला इस अभियान के लिए नहीं चुना गया है.

Breaking -   मां बंजारी धाम एवम् श्री महाकालेश्वर महादेव मंदिर बीरगांव में शिवभक्त श्रद्धालुओं ने सावन के प्रथम सोमवार को भगवान भोलेनाथ शंकर की पूजा बड़े ही धूमधाम से किया...देखें वीडियो

‘छत्तीसगढ़ को जगह नहीं मिलना बेहद निराशाजनक’

उन्होंने कहा कि केंद्र में छत्तीसगढ़ से 16 सांसद जाते हैं, 11 लोकसभा में और पांच राज्यसभा में, लेकिन इन 116 जिलों में एक भी जिला छत्तीसगढ़ का नहीं चुना गया है. जबकि प्रदेश से लाखों की तादाद में लोग दूसरे राज्यों में मजदूरी करने जाते हैं. अमित जोगी ने कहा कि मजदूर अपनी जीविका के लिए संघर्ष कर रहे हैं. इसके बावजूद भी भारत सरकार की इस योजना का एक पैसे का लाभ छत्तीसगढ़ को नहीं मिलना बेहद निराशाजनक है. अमित जोगी ने सांसदों और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से इस विषय में कोई पहल करने का आग्रह किया है.

Breaking -   बीरगांव के सब्जी व्यापारियों को - बीरगांव नगर निगम के अधिकारियों द्वारा किये जा रहे परेशान और भेदभाव से तंग आकर सब्जी बेचने वालों ने दी आंदोलन करने की चेतावनी ...!!

केंद्र सरकार के गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत लॉकडाउन के दौरान अपने राज्य वापस लौटने वाले लाखों मजदूरों को रोजगार दिया जाना है. केंद्र सरकार की इस अभियान को 116 जिलों में 125 दिनों के अंदर पूरा किया जाना है, हालांकि इन 116 जिलों में छत्तीसगढ़ का एक भी जिला शामिल नहीं है. जबकि छत्तीसगढ़ से लाखों मजदूर दूसरे राज्यों में काम करने गए थे, जो लॉकडाउन के दौरान अपने राज्य वापस लौटे हैं.

ये है वो  6 राज्य और उनके 116 जिले…

  • बिहार के 32 जिले
  • उत्तर प्रदेश के 31 जिले
  • मध्य प्रदेश में 24 जिले
  • राज्स्थान में 22
  • ओडिशा में 4 जिले
  • झारखंड में 3 जिले

 

Share on :