15 June 2020,
City News – CN City news logo

रायपुर।  प्रदेश के मनमानी स्कूल फीस वसूली पर लगाम लगाने के लिए अब निजी स्कूलों की फीस शिक्षा विभाग तय करेगा।  राज्य में संचालित अशासकीय स्कूलों की फीस विनियम को लेकर विचार-विमर्श किया जा चूका है।

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ.प्रेमसाय सिंह टेकाम की अध्यक्षता में गठित तीन सदस्यीय मंत्री परिषद् उप समिति में यह निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही फीस तय करने की रणनीति बनाने विभागीय अधिकारीयों को निर्देश भी दिए जा चुके है।  एक सप्ताह में समिति के सामने सुझाव रखे जाएंगे। 

बैठक में शिक्षकों , शिक्षाविद , पालक संघ और निजी स्कूल प्रबंधन से मिले सुझावों पर विस्तार से चर्चा की गई , शिक्षा विभाग के अधिकारीयों ने फीस विनियम के प्रारूप की विभिन्न धाराओं पर सर्वसाधारण से प्राप्त 1288 सुझावों की जानकारी दी।  

देखिये ब्राह्मण का सामान्य ज्ञान इस वीडियो में – 

बैठक में अधिकारीयों को निर्देशित किया गया की निजी स्कूल की फीस तय करने के लिए रणनीति बनाने में प्राप्त बेहतर सुझावों पर विचार कर एक सप्ताह में समिति के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। 

बैठक में तय किया गया की सभी निजी स्कूलों में एक  समिति होगी जिसमे पालक , शिक्षाविद , स्कूल प्रबंधन से जुड़े लोग शामिल रहेंगे।  यह समिति स्कूल की व्यवस्था , पढाई का स्तर , अमला आदि के मापदंड के आधार पर फीस तय करेगी।

समिति द्वारा पूर्व  आयोजित बैठक में नियम कानून बनाने के लिए शिक्षक, शिक्षाविद , स्कूल प्रबंधन और पालक संघ से सुझाव मांगे थे। 

बैठक में समिति के स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला , प्रमुख सचिव विधि विभाग नरेश कुमार चंद्रवंशी , सचिव स्कूल शिक्षा आशीष भट्ट , संचालक लोक शिक्षण जीतेन्द्र  शुक्ला सहित स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारी ऐ.के. बंजारा और आशुतोष चौरे भी उपस्थित थे।

City news logo

ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए  – 

हमारे   FACEBOOK  पेज को   LIKE   करें

सिटी न्यूज़ के   Whatsapp   ग्रुप से जुड़ें

हमारे  YOUTUBE  चैनल को  subscribe  करें

 

यह खबर भी पढ़ें – मोदी सर्कार ने 15 राज्यों में शुरू किया नया स्कीम , 81 करोड़ राशन कार्डधारियों को मिलेगा फायदा।

यह खबर भी पढ़ें – रायपुर के क्वींस क्लब में पुलिस ने मारा छापा, प्रतिबंध के बावजूद चल रही थी हुक्का पार्टी

source