• City News Chhattisgarh
  • Crime news 

छत्तीसगढ़ की बिलासपुर पुलिस ने खुद को बैंक अफसर बताकर ठगी करने वाले गिरोह का शनिवार को पर्दाफाश किया। साइबर सेल की मदद से सिविल लाइंस थाना पुलिस ने झारखंड से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों के पास से ठगी की रकम, उससे खरीदी गई स्कूटी, ATM कार्ड, मोबाइल सहित अन्य सामान बरामद हुआ है। वहीं कई बैंक खातों का भी पता चला है।

पुलिस ने बताया कि 29 अक्टूबर को एक रिपोर्ट दर्ज कराई गई कि एक व्यक्ति ने कॉल कर खुद को बजाज फाइनेंस कंपनी का अफसर बताया। फिर बजाज कार्ड के बारे में जानकारी दी और मोबाइल पर एनी डेस्क एप डाउनलोड करने को कहा। एप डाउनलोड किया। उसके खाते से 5 बार में 1.20 लाख रुपए निकाल लिए। शिकायतकर्ता ने जब मोबाइल नंबर पर कॉल किया तो वह स्विच ऑफ मिला।

यह भी पढ़ें – BIG BREAKING : किसान इंडिया बायोटेक के नाम से करोड़ों की ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश ; 3 आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने 3 दिन रैकी कर आरोपियों को पकड़ा

शिकायत पर पुलिस ने ऑपरेशन साइबर 2020 की शुरुआत की। टीम ने कॉल डिटेल के आधार पर 72 घंटे तक करमाटांड़ (जामताड़ा) और सिरसा (देवघर) में रैकी की। फिर वहां से करमाटांड़ निवासी जितेंद्र मंडल, सिरसा निवासी मिथुन कुमार और राजेश रंजन को गिरफ्तार किया। आरोपियों ने बताया कि ठगी की रकम से 32000 रुपए रखे व स्कूटी खरीदी। अलग-अलग

यह भी पढ़ें – सड़क दुर्घटना : नई कार खरीदकर जा रहे थे घर ; गाड़ी टकराई पेड़ से ; एक की मौके पर ही मौत